vad dhatu roop in sanskrit – वद् धातु रूप

vad dhatu roop in sanskrit – वद् धातु रूप

vad dhatu roop in sanskrit – वद् धातु रूप : इस पोस्ट में हमने उपर धातु के सभी रूप बताये है। तो इस धातु रूप के बारे में जानने के लिए नीचे पढ़े। वद् यानि की बोलना।

vad dhatu roop in sanskrit – वद् धातु रूप

संस्कृत भाषा में वद् धातु का अर्थ होता है बोलना। वद् धातु रूप के सभी लकारों में धातु रूप नीचे दिये गये हैं।

वद् धातु (vad dhatu roop) रूप के पांचो लकार-

1. लट् लकार – वर्तमान काल

2. लोट् लकार – आदेशवाचक

3. लङ् लकार – भूतकाल

4. विधिलिङ् लकार – चाहिए के अर्थ में

5. लृट् लकार – भविष्यत् काल

vad dhatu roop in sanskrit – वद् धातु रूप

1.विधिलिङ् लकार (चाहिए)

पुरुष एकवचन द्विवचन बहुवचन
प्रथम पुरुष वदेत् वदेताम् वदेयुः
मध्यम पुरुष वदेः वदेतम् वदेत
उत्तम पुरुष वदेयम् वदेव वदेम

2. लोट् लकार (अनुज्ञा)

पुरुष एकवचन द्विवचन बहुवचन
प्रथम पुरुष वदतु वदताम् वदन्तु
मध्यम पुरुष वद वदतम् वदत
उत्तम पुरुष वदानि वदाव वदाम

3. लृट् लकार (भविष्यत् काल)

पुरुष एकवचन द्विवचन बहुवचन
प्रथम पुरुष वदिष्यति वदिष्यतः वदिष्यन्ति
मध्यम पुरुष वदिष्यसि वदिष्यथः वदिष्यथ
उत्तम पुरुष वदिष्यामि वदिष्यावः वदिष्यामः

4. लङ् लकार (भूतकाल)

पुरुष एकवचन द्विवचन बहुवचन
प्रथम पुरुष अवदत् अवदताम् अवदन्
मध्यम पुरुष अवदः अवदतम् अवदत
उत्तम पुरुष अवदम् अवदाव अवदाम

5. लट् लकार (वर्तमान काल)

पुरुष एकवचन द्विवचन बहुवचन
प्रथम पुरुष वदति वदत: वदन्ति
मध्यम पुरुष वदसि वदथः वदथ
उत्तम पुरुष वदामि वदावः वदामः

 

आर्टिकल में अपने वद् धातु रूप के बारे मे पढ़ा  ?हमे उम्मीद है कि ऊपर दी गयी जानकारी आपको आवश्य पसंद आई होगी। इसी तरह की जानकारी अपने दोस्तों के साथ ज़रूर शेयर करे

 अन्य धातु रूप – 

गम् / गच्छ धातु रूप

पठ धातु रूप संस्कृत

2 thoughts on “vad dhatu roop in sanskrit – वद् धातु रूप”

Leave a Comment

close